Arohi Today News

Breaking News in Hindi

सरकार बढ़ती जनसंख्या को नियंत्रित करने के लिए चला रही जागरूकता अभियान


फर्रुखाबाद , आरोही टुडे न्यूज़
सरकार बढ़ती जनसंख्या को नियंत्रित करने के लिए जागरूकता अभियान चला रही है। अब उसने सास-बेटा-बहु सम्मेलनों के माध्यम से परिवार नियोजन की मुहिम शुरू की है। मंगलवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बरौन के अंतर्गत आने वाले हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर पपियापुर में सास-बेटा-बहु सम्मेलन आयोजित किया। जिसका शुभारम्भ अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ दलवीर सिंह ने फीता काटकर किया |
इस दौरान गुब्बारे उड़ाकर परिवार नियोजन का सन्देश देने के साथ ही प्रश्न्नोत्तरी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया | जिसके माध्यम से योग्य दम्पति को अपने हिसाब से परिवार को किस तरह नियोजित किया जाये जागरूक किया गया |
इस प्रतियोगिता में भाग लेने सास-बेटा-बहु में जिसने सही तरीके से जबाब दिया उसमें से सुनीता को प्रथम पुरुस्कार काजल को दूसरे और रोशनी को तीसरे पुरुस्कार से सम्मानित किया गया |
इस दौरान अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ दलवीर सिंह ने कहा कि जिस तरह से आज देश में जनसँख्या बढ़ रही है यह कहीं न कहीं चिंता का विषय है| इस ओर हम सभी को मिलकर ध्यान देना होगा |उतने ही बच्चों को जन्म दो जिनकी आप सही से परवरिश कर सको | अधिक बच्चे होने पर हम उनका सही से ध्यान नहीं रख पाते हैं जिससे हम उनको उचित शिक्षा, रोजगार नहीं दे पा रहे है |
डॉ सिंह ने कहा लोग बेटों की चाह में गर्भ में आई हुई बेटी का जन्म से पहले ही गर्भपात करा देते है यह सही नहीं है इसको हमको रोकना होगा | साथ ही हमारे दो या तीन बच्चे हो गए हैं और परिवार भी पूर्ण हो गया है लेकिन परिवार नियोजन के साधन नहीं लेना चाहते है ऐसे में हम गर्भपात कराते हैं जोकि पाप है इस पाप से बचने के लिए हमको परिवार नियोजन के साधनों के बारे में सोचना होगा| इसके लिए आप अपने क्षेत्र की आशा कार्यकर्ता, एएनएम दीदी या आपके गांव के आस पास बने स्वास्थ्य केंद्र पर जाकर परिवार नियोजन के साधनों के बारे में जानकारी कर सकते हैं| जो भी आपको सही लगे वह साधन अपना कर अपने परिवार को अपने ढंग से चला सकते हैं |
हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर पपियापुर कीकम्युनिटी हेल्थ आफिसर सुनीता यादव ने मौजूद लोगों से कहा कि छोटा परिवार सुख का आधार होता है | इसलिए हम सभी को परिवार को सीमित रखना चाहिए | परिवार नियोजन की सुविधाएँ, जैसे- महिला व पुरुष नसवंदी, कापर टी, अंतरा त्रैमासिक गर्भनिरोधक इंजेक्शन और साप्ताहिक गोली छाया को अपनाकर हम अपने परिवार को सीमित कर सकते हैं |
जिला फैमिली प्लानिंग लॉजिस्टिक मैनेजर विनोद कुमार ने बताया कि गर्भ निरोधक साधनों को अपनाने पर लोगों को प्रोत्साहित करने के लिए मिशन परिवार विकास की ओर से प्रोत्साहन राशि दी जाती है। पुरूष नसबंदी पर 3000 तथा महिला नसबंदी पर 2000 रूपये लाभार्थी को दिए जाते हैं । प्रसव के सात दिन के अंदर नसबंदी कराने पर महिला को 3000 तथा प्रसव के 48 घंटे के भीतर पीपीआईयूसडी लगवाने पर महिला को 300 रूपये मिलते हैं। अंतरा इंजेक्शन लगवाने पर लाभार्थी को 100 रूपये दिए जाते हैं।
इस दौरान बीसीपीएम विनीता, ग्राम प्रधान अजय कुमार, आशा संगिनी रेखा, यूपीटीएसयू प्रतिनिधि, यूनिसेफ से बीएमसी हुमा सहित लगभग 90 प्रतिभागी मौजूद रहे |

25 Views