Download App from

अभियान के सफल संचालन के लिए ब्लॉक स्तरीय अधिकारियों का किया गया उन्मुखीकरण

पांच साल तक के बच्चों को 30 अगस्त तक पिलाई जाएगी पोषण की खुराक
माह के प्रत्येक बुधवार और शनिवार को पिलाई जाएगी विटामिन ए की खुराक
बाल स्वास्थ्य पोषण माह के तहत 2.37लाख बच्चों को पिलाई जाएगी खुराक

फर्रुखाबाद ,आरोही टुडे न्यूज़
जनपद में स्वास्थ्य विभाग एवं बाल विकास एवम पुष्टाहार विभाग के संयुक्त प्रयास से 3 अगस्त से 9 माह से लेकर 5 वर्ष तक के बच्चों को विटामिन ए की खुराक पिलाई जायेगी। यह अभियान 30 अगस्त तक चलेगा, अभियान के सफल संचालन के लिए ब्लॉक स्तरीय अधिकारियों का मुख्य चिकित्सा अधिकारी सभागार में उन्मुखीकरण किया गया l
30अगस्त तक चलने वाले इस अभियान के दौरान नौ माह से पांच वर्ष तक के करीब 2.37 लाख बच्चों को विटामिन ए की खुराक पिलाये जाने का लक्ष्य निर्धारित है। विटामिन ए से बच्चों में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है साथ ही रतौंधी सहित आंखों की बीमारियों से बचाव होता है।
मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ अवनींद्र कुमार ने बताया कि टीकाकरण सत्र पर प्रत्येक बच्चे को विटामिन ए की खुराक पिलाने के लिए हर बार एक नई चम्मच की व्यवस्था की जाये और एएनएम द्वारा हर बार खुराक पिलाने के बाद अपने हाथों को सैनेटाईज किया जाये जिससे कोरोना फैलने का खतरा कम हो।
साथ ही सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों के प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को इस अभियान को कोविड 19 के प्रोटोकॉल का पालन करते हुए सफल बनाने के निर्देश दिए और कहा कि इस कार्य में शिथिलता बर्दास्त नहीं की जाएगी।
जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ प्रभात वर्मा ने बताया कि स्वास्थ्य एवं बाल विकास पुष्टाहार विभाग के सहयोग से संचालित बाल स्वास्थ्य पोषण माह विटामिन-ए सम्पूर्ण कार्यक्रम टीकाकरण का एक अभिन्न अंग है जो प्रतिवर्ष दो चरणों में टीकाकरण सत्रों पर आयोजित किया जाता है।
उन्होंने बताया कि एक माह तक चलने वाले इस कार्यक्रम का उद्देश्य 9 माह से 5 वर्ष तक के बच्चों में रोगों से लड़ने की क्षमता में वृद्धि, मृत्यु दर में कमी लाना. रतौंधी एवं कुपोषण से बचाव तथा बच्चों को विटामिन ए की खुराक के साथ-साथ उनको क्या-क्या पोषण आहार दिए जाए इसके प्रति जागरूक किया जाएगा।
डॉ प्रभात ने बताया कि विटामिन ए आंखों के लिए लाभदायक होता है।इससे शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। तथा यह आंखों की रोशनी को तेज कर उसकी मांसपेशियों को मजबूत बनाता है।
उन्होंने बताया कि अभियान के तहत 9 माह से 5 वर्ष तक के लगभग 2,37,411 बच्चों को विटामिन ए की खुराक पिलाई जायेगी, जिसमें से 9 माह से 12 माह के 13,913 बच्चे, एक वर्ष से दो वर्ष के 52,428 बच्चे और दो वर्ष से पांच वर्ष के लगभग 1,71,070 बच्चों को विटामिन ए की खुराक से आच्छादित किया जायेगा |
साथ ही कहा कि माह के प्रत्येक बुधवार और शनिवार को लगने बाले नियमित टीकाकरण सत्रों पर विटामिन ए की खुराक पिलाई जाएगी|

क्या है विटामिन ए संपूरण

विटामिन ए एक घुलनशील विटामिन है। जो शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है। यह सूक्ष्म पोशक तत्व कुपोषण से बचाता है। प्रदेश में लगभग 60 फीसद बच्चों में विटामिन ए की कमी होने का खतरा होता है, जो बच्चों में बीमारी और मृत्युदर की संभावनाओं को बढ़ाता है। विटामिन ए पिलाए जाने से सभी कारणों से मृत्यु में 23 प्रतिशत की कमी, खसरे के कारण होने वाली मृत्यु में 50 फीसद की कमी, अतिसार रोग के कारण होने वाली मौतों में 33 फीसद की कमी आएगी।
इस दौरान डॉ सर्वेश यादव, डीपीएम कंचन बाला, डीसीपीएम रणविजय प्रताप सिंह, यूनिसेफ से डीएमसी राजीव चौहान, चाई से शबाब हुसैन रिज़वी, सीडीपीओ मानवेंद्र सिंह,सभी ब्लॉक के प्रभारी चिकित्साधिकारी और बीपीएम मौजूद रहे l

Share this post:

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल