Download App from

कलयुग में मुक्ति दायिनी है श्रीमद्भागवत कथा : अनूप महाराज

जिला हरदोई के ग्राम मिरगांवा बिरियानाथ शिव मंदिर पर विशेश्वर सिंह भदौरिया जन कल्याण समिति के तत्वावधान में चल रही श्रीमद्भागवत कथा के प्रथम दिवस में असलापुर धाम से पधारें सुप्रसिद्ध कथावाचक परम पूज्य अनूप ठाकुर महाराज ने कहा कि श्रीमद्भागवत कथा के श्रवण मात्र से मनुष्य के सारे कष्ट दूर हो जाते हैं, इसके श्रवण मात्र से सम्पूर्ण विश्व में सुख-शांति आतीं हैं श्री ठाकुर की कृपा की बारिश होती है, श्रीमद्भागवत कथा का श्रवण ही मानव जीवन के उद्धार की सीढ़ी है यह कथा देवप्राप्ति का मार्ग खोलती है। कलियुग में इसे मुक्तिदाता माना गया है। ठाकुर महाराज ने कहा कि आपलोग यहां बैठकर कथा सुन रहे हैं, यह ठाकुर जी की ही कृपा है। सनकादिक ऋषि और सूत जी महाराज ने भी कलियुग में मानव के कल्याण के लिए श्रीमद भागवत कथा के माहात्म्य का बखान किया है। इस ग्रंथ को वेद पुराणों का सार माना जाता है। व्यास जी ने भगवत प्राप्ति का ग्रंथ लिखा। इसका नाम भागवत रखा। बाद में इसे श्रीमद भागवत नाम दिया इस श्रीमद शब्द के पीछे एक बड़ा मर्म छुपा हुआ है। श्री यानी जब धन का अहंकार हो जाए तो भागवत सुन लो, अहंकार दूर हो जाएगा। इस संसारिक जीवन में जो कुछ भी प्राप्त किये हो सब किराए के मकान की तरह है। खाली करना ही पड़ेगा। इसलिए ज्यादा से ज्यादा समय ईश्वर भक्ति में लगाये!
अनूप महाराज ने भक्ति ज्ञान वैराग्य की कथा के साथ साथ गोकर्ण धुंधकारी की कथा को विस्तार पूर्वक सुनाया कथा श्रवणार्थ परिक्षित उमेश सिंह भदौरिया सपत्नीक, स्वामी नागेन्द्र गिरि महाराज, प्रबंधक विनय प्रताप सिंह विनीत, नरवीर सिंह भदौरिया, रामचंद्र अग्निहोत्री, सूर्यकांत द्विवेदी, हरिनाथ भदौरिया, सोनू भदौरिया, राकेश सिंह, राजू शर्मा, मूलचंद शर्मा, अतरपाल कश्यप समेत बड़ी संख्या में श्रद्धालु मौजूद रहें!

Share this post:

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल