Download App from

योगी सरकार ने श्रीअन्न की खरीद का लक्ष्य बढ़ाकर किया 5.82 लाख मीट्रिक टन

लखनऊ:–योगी सरकार ने नवंबर से दिसंबर के बीच तीन माह में मोटे अनाज या श्रीअन्न की खरीद का लक्ष्य बढ़ाकर 5.82 लाख मीट्रिक टन कर दिया है। इसमें सर्वाधिक 5 लाख मीट्रिक टन बाजरा की खरीद की जाएगी जबकि 30 हजार टन ज्वार (हाइब्रिड), 50 हजार टन मक्का और दो हजार टन कोदो की खरीद होगी। श्रीअन्न के विक्रय के लिए कृषकों का पंजीकरण विभाग की वेबसाइट पर आरम्भ हो चुका है। अब तक 929 कृषकों द्वारा पंजीकरण कराया गया है। उल्लेखनीय है कि पिछले वर्ष प्रदेश में 8532 किसानों से कुल मिलाकर 0.44 लाख मीट्रिक टन बाजरा की खरीद हुई थी।प्रदेश में श्रीअन्न-मोटे अनाजों की खरीद प्रक्रिया को अंजाम दिया जा रहा है। इसमें मुख्य रूप से मक्का उत्पादक 29 जनपदों से मक्का क्रय किया जाना प्रस्तावित है। इन जिलों में बुलन्दशहर, हापुड, सहारनपुर, बदायूँ, अलीगढ़, एटा, कासगंज, फिरोजाबाद, मैनपुरी, हरदोई, उन्नाव, सीतापुर, कानपुर नगर, कानपुर देहात, कन्नौज, फर्रुखाबाद, इटावा, औरेया, गोण्डा, बहराइच, श्रावस्ती,बलिया, जौनपुर देवरिया, मिर्जापुर, सोनभद्र, लखीमपुर खीरी, आजमगढ़ एवं ललितपुर शामिल हैं। वहीं, बाजरा खरीद के लिए प्रदेश के मुख्य बाजरा उत्पादक 40 जिलों से खरीद की जाएगी। इनमें बुलन्दशहर, गौतमबुद्ध नगर, बरेली, बदायूँ, शाहजहाँपुर,मुरादाबाद, रामपुर, सम्भल, अमरोहा, अलीगढ़, एटा, कासगंज, हाथरस, आगरा, मथुरा, मैनपुरी, फिरोजाबाद, सीतापुर, हरदोई,उन्नाव, कानपुर नगर, कानपुर देहात, इटावा, औरैया, कन्नौज, फर्रुखाबाद, वाराणसी, जौनपुर, गाजीपुर, चन्दौली, बलिया, मिर्जापुर,सन्तरविदास नगर, जालौन, चित्रकूट, बाँदा, प्रयागराज, कौशाम्बी, फतेहपुर एवं प्रतापगढ़ प्रमुख हैं।

Share this post:

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल

× How can I help you?