Download App from

लोकसभा चुनाव से पूर्व महाराणा प्रताप मूर्ति लगवाने का वादा नहीं हुआ पूरा,तो सत्ताधारी पार्टी का होगा विरोध – करणी सेना

फर्रुखाबाद, आरोही टुडे न्यूज 

सोमवार को डीएम को ज्ञापन देकर अभियान की शुरुआत करेगी करणी सेना…

करणी सेना जिलाध्यक्ष ने प्रेस वार्ता कर सत्ता धारी पार्टी को एक वर्ष पहले महाराणा प्रताप मूर्ति लगवाने केवादे की याद दिलाई। साथ ही चेतावनी भी दे डाली। लोकसभा चुनाव से पहले मूर्ति नहीं लगी। फिर करणी सेना चुनाव में विरोध का बिगुल फूंकेगी। सोमवार से महाराणा प्रताप मूर्ति अभियान शुरू करने की बात कही।

शहर के दीन दयाल बाग स्थित जिला कार्यालय पर रविवार को श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना ने मिडिया से वार्ता की। जिला अध्यक्ष मंथन ठाकुर व महासचिव प्रदीप सिंह राठौर ने मिडिया के सवालों के जवाब दिए।
जिलाध्यक्ष मंथन ठाकुर ने कहा की पिछले वर्ष दशहरे पर पर्यटन मंत्री जयवीर सिंह ने जिले में महाराणा प्रताप व रानी आवंतीबाई की मूर्ति लगवाने की बात कही थी। बजट की भी घोषणा की थी। इस दौरान जिले के जनप्रतिनिधि मंच पर मौजूद थे।आखिर क्या कारण रहा की घोषणा को करीब एक साल होने जा रहा है। दोनों ही मूर्तियों के लगवाने का काम आगे नहीं बढ़ा।
करणी सेना की मांग है कि लोकसभा चुनाव से पूर्व फर्रुखाबाद शहर के प्रमुख चौराहे पर महाराणा प्रताप की मूर्ति लगे। इसके लिए अभियान सोमवार को डीएम को ज्ञापन देकर शुरू होगा। आने वाले दिनों में जनप्रतिनिधियों से भी वार्ता की जाएगी। कैबिनेट मंत्री जयवीर सिंह को भी पत्र के माध्यम से वायदा याद दिलाया जाएगा।
अगर सत्ताधारी पार्टी महाराणा प्रताप की मूर्ति लगवाने में रोज नहीं दिखाती है। जिले में इसका पुरजोर विरोध होगा।
करणी सेना जिला महासचिव प्रदीप सिंह राठौड़ ने बिहार में हुई जाति जनगणना को फर्जी करार दिया।फर्रुखाबाद सांसद मुकेश राजपूत के जाति जनगणना कराने के समर्थन करने के बयान पर तीखा हमला किया। जिला महासचिव ने कहा कि मुकेश राजपूत को अपने किए हुए कार्यों पर भरोसा नहीं है। इसीलिए वह जाति जनगणना का राग अलाप रहे हैं। उनका बयान सिर्फ चुनावी स्टंटबाजी है

Share this post:

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल

× How can I help you?