Download App from

आयुष्मान भारत योजना के लाभार्थियों के कार्ड एक्टिवेशन में अब प्रशिक्षित आशा कार्यकर्ताओं को लगाया जाएगा


फर्रुखाबाद ,आरोही टुडे न्यूज़
आयुष्मान भारत योजना के लाभार्थियों के कार्ड एक्टिवेशन में अब प्रशिक्षित आशा कार्यकर्ताओं को लगाया जाएगा। इसके लिए ब्लाकवार आशा कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। इसी क्रम में मगंलवार को सीएचसी कमालगंज में आशा कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षण दिया गया ।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ अवनींद्र कुमार ने बताया कि जिले में अभी भी बड़ी संख्या में आयुष्मान भारत योजना के लाभार्थियों के कार्ड नहीं बन पाए हैं, लोग अभी भी इस योजना का लाभ लेने से वंचित हैं l
सीएमओ ने बताया कि वर्ष 2011 की जनगणना के अनुसार जिले में गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वालों को भारत सरकार ने आयुष्मान भारत योजना में शामिल किया था। इन सभी के कार्ड बनाए जाने थे। जो लाभार्थी कार्ड नहीं बनवा पाए, उन्हें योजना का लाभ नहीं मिला। विभाग ने समय-समय पर शिविर लगाकर गोल्डन कार्ड बनवाए, लेकिन समाज की इस योजना में रुचि न लेने के कारण अभी भी बड़ी संख्या में लोग कार्ड नहीं बनवा पाए हैं। लिहाजा ऐसे लोगों को आशा कार्यकर्ताओं के माध्यम से खोजा जाएगा और उनके मौके पर ही कार्ड जनरेट किए जाएंगे।
आयुष्मान भारत योजना के नोडल अधिकारी डॉ रंजन गौतम ने बताया कि कार्ड एक्टिवेशन को लेकर पीएम-जेएवाई एक नया एप लांच किया गया है। प्रत्येक ब्लाक में तैनात आशा कार्यकर्ता के बैच बनाकर उन्हें इस एप के माध्यम से कैसे कार्ड एक्टिवेट किए जाने हैं, इस बावत प्रशिक्षित किया जा रहा है। प्रत्येक ब्लाक में बीसीपीएम को आशा कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षित करने की जिम्मेदारी सौंपी गई है।
आयुष्मान भारत योजना के डीपीसी डॉ अमित मिश्र ने बताया कि राज्य स्तर से ही प्रत्येक आशा कार्यकर्ता की आईडी बनाई गई है। पीएम जेएवाई एप कैसे ऑपरेट होगा, इसके बारे में उन्हें प्रशिक्षित किया जा रहा है। प्रशिक्षण के बाद आशा कार्यकर्ता अपने-अपने क्षेत्र के आयुष्मान भारत योजना के लाभार्थियों के घर-घर जाकर कार्ड एक्टिवेट कर सकेंगी l
उन्होंने बताया कि जिले मे 7,80,629 लोगों के आयुष्मान कार्ड बनाए जाने हैं । जिसके सापेक्ष अभी तक 2,35,414 लोग अपना गोल्डन कार्ड बनवा चुके हैंl
साथ ही कहा कि जिले में 37,345 अंतोदय कार्ड धारक हैं जिनमें से अभी तक 19,604 लोगों के गोल्डन कार्ड बनाए जा चुके हैं l
डॉ अमित ने बताया कि अभी तक 8708 लोग इस योजना के तहत लाभ उठा चुके हैं जिसके तहत लगभग 8.67 करोड़ रुपए का भुगतान सरकार द्धारा किया जा चुका है l
डॉ अमित ने बताया कि जिले के आयुष्मान कार्ड धारक नजदीक के किसी भी कॉमन सर्विस सेंटर अथवा पंजीकृत चिकित्सालय में अपना आधार कार्ड एवं राशन कार्ड ले जाकर शीघ्र ही बनवा लें, जिससे आवश्यकता पड़ने पर उन्हें पांच लाख रुपये तक की निशुल्क उपचार की सुविधा पंजीकृत चिकित्सालय में प्राप्त हो सके।
इस दौरान सीएचसी कमालगंज की बीसीपीएम हिरदेश कुमारी और आशा कार्यकर्ता मौजूद रहीं ।

Share this post:

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल

× How can I help you?