लखनऊ :— सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी से अब उसके नेताओं का मोहभंग होता जा रहा है। जिसके चलते पार्टी में भगदड़ मची हुई है और दल के नेता अपनी पार्टी को झटके पर झटका देने में लगे हुए हैं। एक बार फिर से अब कई पदाधिकारियों ने सामूहिक रूप से इस्तीफा देते हुए सुभासपा से किनारा कर लिया है। पार्टी से इस्तीफा देकर बाहर गए नेताओं ने पार्टी मुखिया के ऊपर दल की मूल नीतियों से भटक जाने का आरोप लगाया है।

पहले भारतीय जनता पार्टी के साथ और उसके बाद समाजवादी पार्टी के साथ हुए गठबंधन से अलग होने वाली सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी में मची भगदड़ थमने का नाम नहीं ले रही है। सत्ता हासिल होने की उम्मीदों में लगे पार्टी के नेताओं को जब अपनी उम्मीदे पूरी होती नहीं लगी तो उन्होंने इस्तीफे का दौर चालू कर दिया है। सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष मास्टर राधेश्याम सिंह, कुशीनगर जिला अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर, जिला प्रभारी बृजेश सिंह और जिला सचिव संजय राजभर समेत कई वरिष्ठ नेताओं ने पार्टी मुखिया ओमप्रकाश राजभर के ऊपर पार्टी की मूल नीतियों से भटक जाने का आरोप लगाते हुए सुभासपा से इस्तीफा दे दिया है।
उन्होंने आरोप लगाया है कि पार्टी अपने मूल कर्तव्यों को भूलकर दोहरी नीतियों पर काम कर रही है, जिसके चलते पार्टी कार्यकर्ताओं का अब विश्वास डगमगाने लगा है। कार्यकर्ताओं के डगमगा रहे विश्वास को संभालने की बजाय पार्टी के मुखिया अपने हिसाब से निर्णय ले रहे हैं। नतीजा यह रहा है कि पार्टी के समर्पित कार्यकर्ताओं का विश्वास अब पूरी तरह से हिल गया है और वह खुद को ठगा सा महसूस करने लगे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.