कायमगंज , फर्रुखाबाद,आरोही टुडे संवाददाता

जन स्वास्थ्य सेवाओं के साथ लगातार हो रही खिलवाड़, जिसके कारण अभी हाल ही में कस्बा के निकट बसे गांव कुबेरपुर की एक प्रसूता की उपचार के अभाव में मौत हो गई थी। मृतका के परिवार वालों ने कायमगंज तहसील पुलिया पुल गालिब पर स्थित एक निजी हॉस्पिटल के संचालकों पर उपचार में लापरवाही का आरोप लगाते हुए, प्रसूता की मौत के लिए उसे ही जिम्मेदार ठहराया था। ऐसे ही और मामले इससे पूर्व कायमगंज में सामने आते रहे हैं। सभी प्रकरणों में सहित कुछ ने इसे प्रमुखता से प्रकाशित किया।

उसी अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर राजीव रंजन ने स्वास्थ्य टीम के साथ कायमगंज में छापा मारकर पुलिया पुलगालिब के पास स्थित अधोमानक पाए जाने पर अनुपम हॉस्पिटल,अरविंद पैथोलॉजी तथा अमन फिजियोथैरेपी को सील कर दिया। एसीएमओ ने कहा कि छापामार अभियान आगे भी जारी रहेगा। कायमगंज में जो भी अस्पताल तथा पैथोलॉजी लैब मानक विहीन एवं बिना रजिस्ट्रेशन के चलते पाए जाएंगे। उनके विरुद्ध कड़ी कार्यबाही करते हुए ,उन्हें सील किया जाएगा, साथ ही आईपीसी की सुसंगत धाराओं में मुकदमा भी दर्ज कराया जाएगा । उन्होंने बेबाक लहजे में कहा की कुछ आशाओं की और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के कुछ कर्मचारियों की शिकायतें मिली हैं। ऐसा सुनने में आया है कि यह लोग सरकारी अस्पताल से भर्ती मरीज को लालच में आकर प्राइवेट अस्पतालों में भर्ती कराने के लिए उन्हें गुमराह करते हैं। इनकी भी जांच होगी। अब रात को भी अचानक छापामार कार्यवाही की जाएगी। जिससे कि अपनी ड्यूटी का सही पालन न करने वाले स्वास्थ्य कर्मियों को चिन्हित किया जा सके। यदि ऐसा होता है तो संभव है कि सरकारी अस्पताल में ही जन स्वास्थ्य सेवाओं की स्थिति में अपेक्षित सुधार होने की उम्मीद की जा सकती है।

संवाददाता अभिषेक गुप्ता की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published.