राजेपुर, फर्रुखाबाद, आरोही टुडे संवाददाता

अभिषेक तिवारी की रिपोर्ट

सलेमपुर कोटा चयन को लेकर बवाल। प्रेमा देवी के नाम पर लगी मुहर। पुलिस पर लगा लापरवाही का आरोप। विकासखंड राजेपुर की ग्राम पंचायत सलेमपुर के कोटा चयन को लेकर तीसरी बार बैठक थी। कोटा चयन करने के लिए एडीओ पंचायत अजीत पाठक, सचिव रोहित पटेल, सचिव अशोक कुमार, आशुतोष दुबे, विवेक कुमार,व राजेपुर थानाध्यक्ष सत्यप्रकाश भारी पुलिस बल के साथ सलेमपुर के पूर्व माध्यमिक विद्यालय पहुंचे। जहां प्रधान सरस्वती कुशवाहा की अध्यक्षता में बैठक शुरू कराई गई। जिसमें रोशनी, सहदेव, वीरेंद्र, प्रेमा देवी, सौरभ ने नामांकन कराया। बाद में रोशनी, सहदेव, वीरेंद्र ने अपना नामांकन वापस ले लिया।

सौरभ, प्रेमा देवी के बीच मतदान हुआ।मतदान के बाद वोटों की गिनती शुरू हुई। प्रेमा देवी को कुल 649 मत मिले, जिसमें 329 महिलाएं 320 पुरुष शामिल थे। सौरभ की गिनती 320 पुरुष तक ही हो पाई। सौरभ समर्थकों का कहना है कि पुलिस ने पक्षपात किया हम लोगों को बगैर गिनती कराए बाहर निकाल दिया। जिस पर बाहर आकर ग्रामीणों द्वारा पुलिस प्रशासन मुर्दाबाद के नारे लगाए गए। जब इस संबंध में अधिकारियों से जानकारी की गई तो वह कोई ठोस जवाब नहीं दे सके।इस मामले के बारे में जब एसडीएम व थानाध्यक्ष राजेपुर सत्यप्रकाश से संपर्क किया गया तो उनका कहना है कि जो हारता है वह झूठा आरोप लगाता ही है।कोटा चयन प्रक्रिया में किसी भी प्रकार की धांधली नही हुई हैं।कुछ अराजक तत्वों द्वारा गलत आरोप लगाए जा रहे हैं।चयन प्रक्रिया पूरी तरह से पुलिस की निगरानी में हुई हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.