कंपिल,फर्रुखाबाद,आरोही टुडे संवाददाता
जनपद के कंपिल थाना क्षेत्र के गांव कमलाईपुर में बीती रात यहां के निवासी सत्तार की बेटी अफसाना की बारात जनपद कासगंज थाना सिकंदरपुर वैश्य के ग्राम बड़ौला से आई थी। लड़की के पिता ने बड़ौदा निवासी सुनी अहमद पुत्र मुजीब के साथ शादी तय की थी। वर पक्ष धूम-धड़ाके के साथ खुशी के माहौल में बारात चढ़ा रहा था। वधू पक्ष के दरवाजे पर डीजे बज रहा था। डीजे पर ही खुशी में बाराती डांस कर रहे थे। उसी समय गांव के कुछ युवा भी उसी डीजे पर बारातियों के बीच घुसकर डांस करने लगे। इस पर बारातियों ने आपत्ति करते हुए उन्हें वहां से जाने के लिए कहा, लेकिन मस्ती में चूर गांव के युवा नहीं माने। मामला तू -तू -मैं -मैं से शुरू होकर मारपीट में बदल गया ।

विवाद की सूचना पर और काफी ग्रामीण लाठी-डंडों से लैस होकर वहां पहुंच गए। उन्होंने भी बारातियों को पीटना शुरू कर दिया। बेबस दिख रहे बारातियों ने वहां से भागकर पंचायत घर में छिपकर किसी तरह अपनी जान बचाई। इस मारपीट में दूल्हे को भी नहीं बख्शा गया। इसलिए मौके से भाग कर दूल्हे को भी कहीं दूसरी जगह छिपना पड़ा। इस तरह हुई घटना से नाराज दूल्हे के भाई आरिफ ने आरोप लगाते हुए कहा कि झगड़ा करने वाले ग्रामीणों ने उसकी एक सोने की चैन तथा बहनोई और चाचा की अंगूठी छीन ली है । मामले ने बारातियों को इतना आहत कर दिया की दूल्हे के भाई और रिश्तेदार आक्रोश में आकर बारात वापस ले जाने की बात करने लगे। बारात वापस होने की खबर जैसे ही वधू पक्ष के लोगों को हुई ।वे निराश होकर बारातियों से बगैर निकाह के यहां से न जाने की मिन्नत करने लगे। घटना की सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने प्रकरण को समझने के लिए दोनों पक्षों से उनकी बात सुनी और समझा-बुझाकर मामले को शांत कराते हुए निकाह की रस्में पूरी कराई। बाद निकाह दुल्हन के साथ बारात अपने गांव के लिए रुखसत हो गई।

संवाददाता अभिषेक गुप्ता की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published.