फर्रुखाबाद ,आरोही टुडे संवाददाता
प्रधानमंत्री के जन्मदिन के उपलक्ष्य में आयोजित हो रहे सेवा पखवाड़े के अंतर्गत शुक्रवार को ज़िला क्षय रोग केन्द्र सहित सभी टीबी यूनिट, हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर पर क्षय रोग के प्रति जागरूक किया गया साथ ही टीबी रोगियों को दवा की किट भी वितरित की गई l
जिला क्षय रोग अधिकारी डॉ सुनील मल्होत्रा ने बताया कि क्षय रोग का इलाज बहुत आसान है। बशर्ते आपको अपने रोग को छिपाना नहीं है l छिपाने से रोग घटता नहीं है और बढ़ जाता है, और आपकी नादानी के कारण यह प्राणघातक भी हो जाता है l
डॉ मल्होत्रा ने बताया कि क्षय रोग की समस्त आधुनिक जांच एवं संपूर्ण उपचार सरकारी स्वास्थ्य केंद्रों में निशुल्क उपलब्ध है। यदि दो सप्ताह से अधिक समय से खांसी है, खांसी के साथ बलगम में खून आ रहा है, बुखार विशेष रूप से शाम को बढ़ने लगता है व सीने में दर्द हो रहा हो तो टीबी की पहचान के लिए जांच स्वास्थ्य केंद्र में अवश्य कराएं। इलाज को बिल्कुल बीच में न छोड़े क्योंकि ऐसा करने पर एमडीआर टीबी होने की संभावना बढ़ जाती है। टीबी को फैलने से रोकने के लिए क्षय रोग के मरीज छींकते, खांसते समय पर मुंह पर कपड़ा अवश्य रखें। अधिक जानकारी के लिए टोल फ्री नंबर 1800116666 पर संपर्क कर सकते हैं।


ज़िला कार्यक्रम समन्वयक सौरभ तिवारी ने बताया कि ज़िले में इस समय 2886 टीबी रोगियों का इलाज चल रहा है l
साथ ही इस वित्तीय वर्ष में सरकार ने लगभग 77 लाख रुपए क्षय रोगियों के पोषण के लिए वितरित किए हैं।
नगला किसानन की रहने वाली काल्पनिक नाम रेखा कहती हैं मुझे दो महीने से बुखार आ रहा था दवा खाने से उतर जाता फिर आ जाता मैने अपनी टीबी की जॉच जिला क्षय रोग केन्द्र पर कराई l जॉच में टीबी निकली मैं 2महीने से लगातार दवा खा रही हूं l अब मुझे थोड़ा आराम है l
बिर्राबाग के रहने वाले 30 वर्षीय काल्पनिक नाम रमेश कहते हैं मुझ को पहले भी टीबी हो चुकी है मैंने पहले टीबी की दवा बीच में छोड़ दी थी l अब मैं रोज दवा खाऊँगा l मेरा सभी से अनुरोध है कि टीबी की दवा बीच में न छोड़ें l इसके अलावा मेरे खाते में प्रतिमाह 500 रुपये भी मिले।
इस दौरान अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ रंजन गौतम, डॉ हनी मल्होत्रा नवाबगंज सीएचसी के प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ लोकेश शर्मा, अमित कुमार सहित जिला क्षय रोग केन्द्र के अन्य लोग मौजूद रहे ।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.