फर्रुखाबाद ,आरोही टुडे न्यूज़
परिवार नियोजन के साधन अपनाना उनके लिए ज्यादा आवश्यक है जिनका परिवार पूरा हो चुका है यानि दो बच्चे हो चुके हैं। यह कहना है अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी और परिवार कल्याण कार्यक्रम के नोडल अधिकारी डॉ यू सी वर्मा का।
डॉ वर्मा ने बताया कि शुक्रवार को डॉ राम मनोहर लोहिया चिकित्सालय महिला, सिविल अस्पताल लिंजीगंज सहित जिले के समस्त स्वास्थ्य केंद्रों पर अंतराल दिवस मनाया गयाl उन्होंने बताया कि परिवार नियोजन के साधन अपनाने से हम खून की कमी से भी बचे रहते हैंl जो लोग परिवार नियोजन के साधन नहीं अपनाते हैं और कहीं अनचाहा गर्भधारण हो गया तो लोग परेशान होकर गर्भपात कराते हैं l
इस मौके पर स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं द्वारा लोगो को मनचाहे गर्भनिरोधक साधन जैसे- आईयूसीडी, अंतरा इंजेक्शन, छाया गोली, माला-एन व कंडोम का वितरण कर परिवार नियोजन की निःशुल्क सेवाएं प्रदान की गईं। लोगों को दो बच्चों के जन्म में तीन साल का अंतर रखना है। इससे मां-बच्चे का स्वास्थ्य अच्छा रहे जागरूक किया गया l
इसी क्रम में सीएचसी शमसाबाद में अंतराल दिवस मनाया गया l इस दौरान लोगों को परिवार नियोजन के प्रति जागरूक किया गया साथ ही उनको मनमुताबिक साधन दिए गए l सीएचसी शमसाबाद के प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ अभिजीत यादव ने बताया कि इस मौके पर नव विवाहित योग्य दंपति एवं दो या दो से अधिक बच्चों वाले माता-पिता को परिवार नियोजन के साधनों को अपनाने के प्रति जागरुक एवं प्रेरित किया गया।लाभार्थियों को उनके पसंदीदा साधन निःशुल्क मुहैया कराए गए।
परिवार नियोजन के जनपद सलाहकार विनोद कुमार ने बताया कि परिवार नियोजन की जरूरत, नसबंदी से फायदे, सही उम्र में विवाह, बच्चों के जन्म में अंतर, नवदंपति के लिए उपयुक्त गर्भ निरोधक के प्रयोग एवं परिवार नियोजन के अन्य अस्थायी साधन अपनाने पर जोर देने के उद्देश्य से हर शुक्रवार को अंतराल दिवस मनाया जाता है। इसका मुख्य उद्देश्य मातृ एवं शिशु मृत्यु-दर में कमी लाना है।
विनोद ने बताया कि इस वित्तीय वर्ष में अगस्त 2022 तक 3पुरूष नसबंदी,340 महिला नसबंदी,5162 त्रैमासिक गर्म निरोधक इंजेक्सन अंतरा, 3598, पीपीआईयूसीडी,2912 आईयूसीडी,14 गर्म समापन के बाद आईयूसीडी, और 11849 साप्ताहिक गर्भनिरोधक गोली छाया का प्रयोग किया जा चुका है।


विनोद ने बताया कि कल यानि 8 अक्टूबर को सीएचसी कायमगंज, 15 को बरोंन,28 को मोहम्दाबाद, 29 को सीएचसी कमालगंज में महिला नसबंदी शिविर लगाए जाएंगे l इसके साथ ही 21 अक्टूबर को सिविल अस्पताल लिंजीगंज में पुरुष नसबंदी शिविर लगाया जाएगा इस अवसर पर इक्षुक लाभार्थी उक्त शिविरों का लाभ उठा सकते हैं l
शमसाबाद की रहने वाली लाभार्थी गुंजन ने बताया कि एएनएम से अंतराल दिवस के बारे में जानकारी मिलने पर यहाँ आई, तो सभी साधनों के बारे में अच्छे से समझ आया | बास्केट ऑफ़ चॉइस से मैंने अंतरा इंजेक्शन चुना | मैं बहुत खुश हूँ कि मनचाहा गर्भनिरोधक साधन मिल गया |
शमसाबाद की रहने वाली अंजली ने सप्ताहिक गर्भ निरोधक गोली छाया लेने के बाद कहा कि मैं इस गोली का सेवन काफी समय से कर रही हूं तब से मैंने गर्भधारण नहीं किया है अब तो मेरा छोटा बच्चा चार वर्ष का हो गया है l
इस दौरान आशा कार्यकर्ता और लाभार्थी मौजूद रहे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.