Download App from

नियमित टीकाकरण बढ़ाने को लेकर मंथन, मिजिलस-रूबेला टीकाकरण पर भी हुई चर्चा


फर्रुखाबाद, आरोही टुडे न्यूज़
स्वास्थ्य विभाग के तत्वावधान में विश्व स्वास्थ्य संगठन के सहयोग से आयोजित कार्यशाला में नियमित टीकाकरण की दर को बढाने और और मिजिल्स – रूबेला (एमआर) टीकाकरण पर मंथन हुआ l इसमें शत-प्रतिशत बच्चों को हर जरूरी टीके लगाए जाने की रणनीति पर चर्चा हुई ।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ अवनीन्द्र कुमार ने कहा कि बच्चों को 12 जानलेवा बीमारियों से सुरक्षित रखने के लिए टीकाकरण के महत्व को समझना हर किसी के लिए जरूरी है l घर के आस – पास लगने वाले टीकाकरण बूथ पर पहुंचकर बच्चों को जरूरी टीके समय से अवश्य लगवाएं ।
जिला प्रतिरक्षण अधिकारी (डीआईओ) डॉ. प्रभात वर्मा ने कहा कि जिले के शहरी क्षेत्र में 8, राजेपुर में 5, बरौन में 9, शमसाबाद में 2, कमालगंज में 4, कायमगंज में 2,मोहम्दाबाद में एक बच्चे में मिजिल्स- रुबेला के लक्षण मिले हैं, साथ ही कमालगंज मेंएक बच्चे में काली खांसी और कायमगंज में एक बच्चे में डिफ्थीरिया के लक्षण मिले हैं ।

इन सभी बच्चों के माता- पिता भय व भ्रान्ति के चलते समयानुसार टीके नहीं लगवाए थे l जनपदवासियों से अपील है कि बच्चों को टीके जरूर लगवाएं क्योंकि यह बच्चों को जानलेवा बीमारियों से बचाते हैं ।
डीआईओ ने बताया कि केंद्र सरकार के निर्देश पर वर्ष 2023 के अंत तक मिजिल्स-रूबेला के केस में कमी लाना है l इसलिए जिले में मिशन मोड़ में एक विशेष अभियान नौ जनवरी से 20 जनवरी, 13 फरवरी से 24 फरवरी और 13 मार्च से 24 मार्च तक चलाया जाएगा | इसमें किसी भी कारणवश टीकाकरण से छूटे हुए बच्चों को टीके लगाए जाएंगे ।
डीआईओ ने बताया कि जिस बच्चे को बुखार आ रहा है और उसके शरीर पर लाल रंग के चकत्ते हैं तो अपने पास के स्वास्थ्य केन्द्र पर बच्चे को अवश्य दिखाएं |
विश्व स्वास्थ्य संगठन के सर्विलांस मेडिकल आफीसर डॉ जॉन ने निजी और प्राइवेट चिकित्सकों से अपील की कि आपके पास अगर कोई बच्चा दवा लेने आता है और उसमें मिजिल्स-रूबेला, नवजात टिटनेस, पोलियो, डिफ्थीरिया या काली खांसी के लक्षण दिखाई देते हैं तो तुरंत स्वास्थ्य विभाग को अवगत कराएं l
मिजिल्स रूबैला के लक्षण
शऱीर पर लाल चक्कते पड़ना।
खुजली होना।
सर्दी-जुखाम,छींकना।
भूख नहीं लगना।
तेज बुखार होना।
सिरदर्द होना।
पैरो में दर्द होना।
चेहरे पर घावों के निशान हो जाते है और तीन दिन में पूरे शरीर, हाथ-पैरो में फैलने लगते है।
इस दौरान अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ दलवीर सिंह, प्रशासनिक अधिकारी निष्ठा श्रीवास्तव उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ आर सी माथुर, डीपीएम कंचन बाला, डीसीपीएम रणविजय प्रताप सिंह, प्राइवेट चिकित्सक डॉ बी के गुप्ता, यूएनडीपी से मानव शर्मा, चाई से शबाब हुसैन रिज़वी, यूनिसेफ से डीएमसी अनुराग दीक्षित सहित विश्व स्वास्थ्य संगठन के मॉनिटर मौजूद रहे l

Share this post:

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल

× How can I help you?