Download App from

देश से नफरत मिटाने की जरूरत, हजारों करोड़ रुपये खर्च किए गए मेरी छवि खराब करने के लिए- राहुल गांधी

नई दिल्ली: कांग्रेस नेता राहुल गांधी के नेतृत्व में चल रही भारत जोड़ो यात्रा शनिवार को राजधानी दिल्ली में एंट्री कर चुकी है. आज यात्रा ने बदरपुर बॉर्डर से सुबह दिल्ली में प्रवेश किया. इस यात्रा में कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी, बहन प्रियंका गांधी वाड्रा और रॉबर्ट वाड्रा भी शामिल हुए हैं. राहुल ने सुबह राम दरबार के दर्शन किए तो दोपहर में हजरत निजामुद्दीन की दरगाह पर जाकर माथा टेका और दुआ मांगी. राहुल का शक्ति प्रदर्शन देखने के लिए बड़ी संख्या में भीड़ देखने को मिल रही है. यात्रा मथुरा रोड, इंडिया गेट और आईटीओ से होते हुए लालकिला पहुंच गई है. राहुल ने भारत जोड़ो यात्रा में शामिल होने के लिए विपक्षी दलों को भी न्योता दिया है।

देश जानता है कि ये नरेंद्र मोदी की सरकार नहीं, अंबानी अडानी की सरकार है। मैं 2,800 किमी चला, मुझे कहीं भी नफरत या हिंसा नहीं दिखी मगर मैं जब भी न्यूज चैनल खोलता हूं तो हमेशा नफरत-हिंसा दिखाई देती है: कांग्रेस सांसद राहुल गांधी,

अगर इस देश को कोई रोजगार दे सकता है तो वो किसान और छोटे व्यापारी दे सकते हैं क्योंकि ये देश में लाखों हैं। ये लोग 24 घंटे लगे रहते हैं। इनके लिए बैंक के दरवाजे बंद रहते हैं: कांग्रेस सांसद राहुल गांधी,

गडकरी से अनुरोध किया राहुल गांधी के आज के कार्यक्रम में बदलाव हो गया है. राहुल गांधी राजघाट समेत अन्य समाधियों पर फूल चढ़ाने नहीं जा रहे हैं. चूंकि शाम की पदयात्रा में भीड़ बढ़ने के कारण समय ज्यादा लग गया, इसलिए देरी हो गई. अब राहुल गांधी कल यानी 25 दिसंबर की सुबह समाधियों पर श्रद्धांजलि देने जाएंगे. राहुल कल वीरभूमि (राजीव गांधी), शक्ति स्थल (इंदिरा गांधी), शांति वन (पं. जवाहर लाल नेहरू), विजय घाट (लाल बहादुर शास्त्री), राष्ट्रीय स्मृति स्थल (अटल बिहारी वाजपेयी), राजघाट (महात्मा गांधी) पर श्रद्धांजलि देंगे.
– राहुल ने कहा कि हमें शर्ट और सेलफोन, जूतों के नीचे मेड इन इंडिया लिखना है. हमें वो दिन देखना है, जब कोई चीन में जाकर देखे कि मेड इन नई दिल्ली इंडिया. ये हम करके दिखा देंगे. ये देश इसे पूरा सकता है. राहुल ने लोगों को फ्लाइंग किश दिया. हम नफरत के बाजार में मोहब्बत की दुकान खोलेंगे. – भारत जोड़ो यात्रा में कोई नफरत नहीं थी. ना कोई हिंसा थी. कभी कोई गिर जाता, तो एक सेकेंड उठा लेता था. जैसे हरियाणा के पीसीसी चीफ गिरे तो एक सेकेंड में उठा लिया गया।
हिंदुस्तान के प्रधानमंत्री पर लगाम लगी है. उनकी गलती नहीं है. वो संभाल नहीं पा रहे हैं. उनको कंट्रोल कर लिया है. सारे पब्लिक सेक्टर भी उनके हैं. एयरपोर्ट, पोर्ट, एग्रीकल्चर, लालकिला भी उनका है. ताजमहल भी चला जाएगा. ये देश की सच्चाई है. हाइवे और सेलफोन भी उनके हैं. मगर, सच्चाई हमारी. – जब राजनीति में आया 2004 में, हमारी सरकार थी. ये प्रेस वाले प्रशंसा करते थे. 24 घंटा राहुल गांधी करते थे. फिर मैं चला गया भट्टा परसोल. वहां किसानों का जमीन का मामला छेड़ दिया. उसके बाद से पीछे पड़ गए. जमीन अधिग्रहण बिल आया. 24 घंटे पीछे पड़ गए. – पीएम और बीजेपी ने हजारों करोड़ रुपए खर्च कर दिए मेरी छवि खराब करने में. लेकिन मैंने एक शब्द नहीं बोला. ना सफाई दी. एकदम चुप रहा. मैंने सोचा कि चलो देखता हूं कि कितना दम है. वॉटसएप, फेसबुक पर चलाया. पूरे देश में दुष्प्रचार किया. अब एक महीने में मैंने सच्चाई दिखा दी. पूरा का पूरा खत्म. सच्चाई को छिपाया नहीं जा सकता है. कहीं ना कहीं से सच्चाई बाहर आ जाती है. नफरत और डर से प्यारे देश को नुकसान हो रहा है. ये सच्चाई है. इसलिए हमने ये यात्रा कन्याकुमार से लेकर कश्मीर तक की है. तिरंगा को हम अब श्रीनगर में लहराएंगे. – बीजेपी वाले हिंदू धर्म की बात करते हैं. मैं पूछना चाहता हूं- हिंदू धर्म में कहां लिखा है- गरीब और कमजोर लोगों को मारना चाहिए. हिंदू धर्म कहता है कि डरो मत. ये लोग पूरे देश में 24 घंटे डर फैलाने की बात करते हैं. – राहुल ने कहा कि प्रेस वालों ने मुझसे पूछा कि आपको ठंड नहीं लगती है. मैंने कहा कि ये हिंदुस्तान के किसान, मजदूर और गरीबों से क्यों नहीं पूछते. मैंने 2800 किमी चल लिया… ये कोई बड़ी बात नहीं है. ये बड़ा काम नहीं किया. पूरा हिंदुस्तान चलता है. किसान, मजदूर पूरी जिंदगी में 10 हजार किमी तक चल लेता है. – राहुल ने कहा कि मैंने युवाओं से बातचीत की तो उन्होंने कहा कि मैं इंजीनियर, डॉक्टर, आईएएस बनना चाहता हूं. लेकिन आज क्या करते हैं- पकौड़े बनाता हूं. देश में बेरोजगारी क्यों आई? इस देश को रोजगार सिर्फ स्मॉल बिजनेसमैन और किसान दे सकते हैं. ये लोग देश को रोजगार देते हैं. ये 24 घंटे लगे रहते हैं. बैंक के दरवाजे बंद रहते हैं. जबकि दो-चार करोड़पतियों को यूं ही पैसे दे दिए जाते हैं. राहुल ने नोटबंदी को किसानों और छोटे व्यापारियों को मारने के लिए हथियार बताया है. – राहुल ने कहा कि नरेंद्र मोदी की सरकार नहीं है. ये अंबानी और अडानी की सरकार है. इनका पूरा ध्यान इधर से उधर करना है. मैं 2800 किमी चला हूं. मुझे कहीं मारपीट और हिंसा नहीं दिखी. – राहुल गांधी ने अपने भाषण की शुरुआत नफरत को लेकर की. राहुल ने कहा कि जब मैंने चलना शुरू नहीं किया तो लगता था कि देश में नफरत है. लेकिन ये सच्चाई नहीं है. पूरे देश में एकजुटता है. आज देश से नफरत मिटाने की जरूरत है. 90 प्रतिशत लोग एक-दूसरे से प्यार करते हैं. राहुल ने लालकिले के बगल में मंदिर, मस्जिद और गुरुद्वारे का उदाहरण दिया है. – कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि कश्मीर में तिरंगा झंडा फहराकर यात्रा खत्म होगी. उसके बाद हाथ से हाथ जोड़ो कार्यक्रम शुरू होगा. धर्म के नाम पर समाज को खत्म कर रही है. बोलने की आजादी छीनी जा रही है. अच्छे विचारधारा के लोगों को डराया-धमकाया जा रहा है. भारत जोड़ो यात्रा देखकर बीजेपी सरकार डर गई है और कोरोना का बहाना बना रही है. लेकिन, पीएम ने स्वास्थ्य मंत्री से कहा कि देश में कोरोना बढ़ रहा है. इसका प्रचार करो. इसलिए पीएम मास्क लगाकर संसद पहुंचे. जबकि एक शादी में मास्क नहीं लगाए थे. ये सिर्फ डराने के लिए है. लोगों में डर पैदा करके यात्रा को तोड़ने की कोशिश कर रहे हैं. हम आगे बढ़ते रहेंगे. हम डरने वाले नहीं है. हम मुश्किलों से नहीं डरेंगे. ये राजनीतिक यात्रा नहीं है. देश में महंगाई, बेरोजगारी और चीनी हमले के खिलाफ आवाज उठाई जा रही है. हमने संसद में बेरोजगारी और महंगाई पर बोलने की कोशिश की, लेकिन ये सरकार बोलने नहीं देती. ना बात सुनती और ना चर्चा के लिए तैयार होती है. – खड़गे ने कहा कि मैं पूछना चाहता हूं कि मोदी जी चर्चा से क्यों भाग रहे हो और क्या छिपा रहे हो. -कमल हासन ने कहा कि मैं भारत के बेटे के तौर पर यात्रा में शामिल होने आया हूं. पार्टी कोई भी हो. विचार अलग-अलग हो सकते हैं. देश के लिए सब एक हैं. – भारत जोड़ो यात्रा के साथ राहुल गांधी लाल किला पहुंच गए हैं. उनके साथ अभिनेता कमल हासन भी हैं. थोड़ी देर में राहुल गांधी जनसभा को संबोधित करेंगे. – भारत जोड़ो यात्रा में अभिनेता से नेता बने कमल हासन भी शामिल हुए हैं. उनके समर्थकों में जबरदस्त उत्साह देखने को मिल रहा है. अब राहुल के नेतृत्व में यात्रा आईटीओ से लाल किले की तरफ आगे बढ़ रही है. थोड़ी देर में राहुल गांधी यहां पहुंचेंगे. – राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा आईटीओ तक पहुंच गई है. – राहुल गांधी ने हजरत निजामुद्दीन औलिया की दरगाह पहुंचकर चादर चढ़ाई. – भारत जोड़ो यात्रा के दौरान राहुल गांधी ने आश्रम चौक स्थित जयराम आश्रम में सियाराम दरबार के दर्शन किए. – कांग्रेस नेता राहुल गांधी निजामुद्दीन औलिया की दरगाह जाएंगे. जबकि भारत जोड़ो यात्रा में कमल हासन आईटीओ में शामिल होंगे. – राहुल गांधी के नेतृत्व में काफिला लालकिले की ओर बढ़ रहा है. हालांकि यात्रा इस वक्त आश्रम पहुंच चुकी है. – भारत जोड़ो यात्रा में सोनिया गांधी शामिल हुईं. इस दौरान प्रियंका और रॉबर्ट वाड्रा भी पदयात्रा में पहुंचे. इस वक्त राहुल गांधी का काफिला आश्रम की ओर बढ़ रहा है. पुलिस ने साइन बोर्ड लगाकर भारत जोड़ो यात्रियों से सड़क के बाईं ओर चलने का अनुरोध किया है. यात्रा के सुबह के चरण में भीड़ के कारण कार और अन्य वाहन धीमी गति से चलते देखे गए. बड़ी संख्या में लोग कांग्रेस नेता राहुल गांधी की एक झलक पाने के लिए सड़कों पर उमड़ पड़े. फुटपाथ और डिवाइडर या जहां भी उन्हें जगह मिली, वहां खड़े हो गए. 7 सितंबर को तमिलनाडु के कन्याकुमारी से शुरू हुई यात्रा ने अब तक 9 राज्यों को कवर किया है और जनवरी के अंत तक जम्मू और कश्मीर में समापन होना है. यात्रा का आज 108वां दिन है. 9 राज्यों में तमिलनाडु, केरल, कर्नाटक, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, राजस्थान और हरियाणा के 46 जिलों में लगभग 3,000 किलोमीटर की दूरी तय कर चुकी है. अब ये यात्रा यूपी, हरियाणा, पंजाब से होकर जम्मू कश्मीर पहुंचेगी।

Share this post:

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल

× How can I help you?