Download App from

मुख्य विकास अधिकारी तहसील अमृतपुर में किया औचक निरीक्षण, संबंधित अधिकारियों को लगाई कड़ी फटकार

अमृतपुर, फर्रुखाबाद, आरोही टुडे न्यूज़

अभिषेक तिवारी की रिपोर्ट

तहसील अमृतपुर क्षेत्र के किसानों द्वारा खदेड़ कर पहुंचाई गई गायों को 2 दिन से बीत जाने के बाद पूरी तरह से सुरक्षित संरक्षण एवं गौशाला में नहीं भेज पाया प्रशासन बीते शाम को गौशाला में गायों को भेजने के लिए प्रगति को देखकर बीती शाम मुख्य विकास अधिकारी एम अरुण मौली तहसील अमृतपुर में औचक निरीक्षण पहुंची गौशालाओं को पहुंचने में हो रही देरी को देखते हुए संबंधित अधिकारियों को कड़ी फटकार लगाई सीडीओ ने मौके पर उपस्थिति खंड विकास अधिकारी कौशल गुप्ता को सख्त निर्देश दिए कि किसी भी स्थिति में गोवंश को सुरक्षित गौशाला तक पहुंचाया जाए तहसील परिसर में बीते 2 दिन से किसान भी पशु चिकित्सक के ना आने की जानकारी पाकर मुख्य विकास अधिकारी ने नाराजगी जताई और शीघ्र ही पशु चिकित्सालय को मौके पर बुलाने के निर्देश दिए।

मौके पर  कोई भी गोपालक नजर नहीं आए तो उसे खंड विकास अधिकारी चेतावनी देते हुए कहा कि किसी स्थिति में तुरंत गोपाल को बुलाया जाए और गांव वालों को वाहनों लादकर गौशाला पहुंचाया इसी दौरान बारिश के अध्यक्ष विनोद प्रकाश द्विवेदी द्वारा मौके पर मुख्य विकास अधिकारी को बताया जया की कुछ अधिकारी द्वारा लापरवाही बरती जा रही है जिसके चलते सभी गोवंश गौशाला तक नहीं पहुंच पाए उसी मुख्य विकास अधिकारी ने बताया कि के बहाने के लिए प्रशासन द्वारा लोगों का इंतजाम नहीं किया जा सकता है इसके बाद एडवोकेट प्रकाश त्रिवेदी अपने गांव के कुछ लोगों को बाहर आने के बादमुख्य विकास अधिकारी सख्त तेवर देखकर अधिकारियों के हाथ-पांव फूल गए वहां अपनी पूरी तत्परता से गोपाल को को एवं ग्रामीणों के साथ गोवंश ओके वाहनों में लगवाने का प्रयास करने लगे बताते चलें कि बीते मंगलवार को जिले के आला अधिकारी तहसील परिसर मैं लगभग आधी रात तक डटे रहे इसके बावजूद भी गोवंश की संख्या अधिक होने के कारण पूरी तरह से उन्हें गौशाला तक नहीं भेजा जा सका।

बीते दिन तहसील अमृतपुर में किसानों द्वारा हजारों गोवंश को खदेड़ कर बंद कर दिया गया था 2 दिन से लगातार तहसील परिसर के गोवंश की आवाज आवाज में इधर-उधर ढूंढता रहा हालांकि बीते मंगलवार शाम पहुंचे जिलाधिकारी के निर्देश सहारनपुर गौशाला एक ट्राली से भुसा मंगवाया गया था परंतु इसके अधिक गोवंश को देखते हुए पूरा भूसा काफी प्रतीत हो रहा है 2 दिन से तहसील परिसर में बंद गोवंश की हालत अधिक हो चुकी है और भूख प्यास से सर्दी के कारण कुछ गोवंश मृत हो गई है जिसको तहसील परिसर में ही जेसीबी द्वारा गड्ढे खुदवा करवाई गई बचाने के लिए प्रशासन द्वारा एक दो जगह पर अलाव जलाने की व्यवस्था की गई परंतु इतनी अधिक जनसंख्या ज्यादा होने के कारण काफी ही प्रतीत हुआ है ढंग से संभालने के लिए सुबह से ही खंड विकास अधिकारी नवाबगंज गगनदीप को भी मोर्चे पर लगा दिया गया पलकों को निरंतर करते रहे और लगातार दिन भर अपनी परवाह ना करते हुए गोवंश को स्वयं वाहनों में लगवाने की मदद करते रहे रहे इधर-उधर दौड़ते नजर आए लगाए हुए हैं जिले के पूरा प्रशासन तहसील परिसर में लगातार अपनी निगाह बनाए हुए हैं प्रशासन का पूरा प्रयास है कि शीघ्र से तहसील परिसर को सभी गोवंश गौशालाओं के संरक्षण में हेतु भेज दिया जाएगा परंतु प्रशासन से लगातार दिन-रात प्रयास करने में बावजूद भी अभी तक पूरी तरह से तहसील परिसर को गोवंश से मुक्त नहीं करा पाया सखा जिसके कारण अभी तक अफरा-तफरी का माहौल बना हुआ है वहीं गुरुवार सुबह करीब 7:00 बजे मुख्य विकास अधिकारी पहुंच गई ।

उन्होंने खंड विकास अधिकारी को कहा कि सभी प्रधानों को सचिव रोजगार सेवकों को बुलाकर शीघ्र ही कार्य संपन्न कराए जाने की हिदायत दी उन्होंने इस कार्य में लापरवाही बरतने वाले के खिलाफ सख्त कार्रवाई किए जाने की आदेश दिए उन्होंने साथ ही साथ यह भी कहा है कि जिन प्रधानों से ज्यादा पैसे निकाल लिए हैं उन प्रधानों की जांच कराने के निर्देश दिए गए हैं उन्होंने कहा कि अगर पैसे का है कहीं जरूरत पड़ रही है तो खुद पैसे लेकर आए हैं लेकिन कार्य में लापरवाही बिल्कुल नहीं बर्दाश्त की जाएगी तत्काल अगर लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों को भी कड़ी हिदायत दी है।

Share this post:

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल

× How can I help you?