Download App from

नन्हे मुन्ने बच्चो व गर्भवती महिलाओं को नहीं मिल रहा पोष्टाहार,जिम्मेदार अधिकारी मौन

राजेपुर, फर्रुखाबाद, आरोही टुडे न्यूज़

अभिषेक तिवारी की रिपोर्ट

एक तरफ जहां भारत सरकार बाल विकास परियोजना योजना चलाकर हर गरीब के बच्चे को इसका लाभ दिलाने के लिए हर संभव प्रयास कर रहीं है। वहीं दूसरी तरफ आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों के द्वारा सरकार के आदेशों की धज्जियां उड़ाई जा रही है। खंड बाल परियोजना अधिकारी भी हो रहे घोटाले में संपूर्ण सहयोग दे रहे हैं। आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों द्वारा लगातार घोटाला किया जा रहा है। उच्च अधिकारियों द्वारा आंगनवाड़ी कार्यकत्रियों के प्रति कोई ठोस कदम नहीं उठाया जा रहा है। लगातार पोष्टाहार में घोटाला किया जा रहा है। उच्च अधिकारी चुप्पी साधे बैठे हुए हैं। पूरा मामला जनपद फर्रुखाबाद के विकास खंड राजेपुर के गांव अमैयापुर पूर्वी के आंगनवाड़ी केन्द्र का हैं। जहाँ मिली जानकारी के अनुसार विकास खंड राजेपुर से 6 मार्च 2023 को केंद्र से राशन का उठान हुआ हैं।जिसमें कुल लाभार्थियों की संख्या 159 है।97 पैकेट 1 किलो दाल और 68 पैकेट 500ग्राम दाल के जिसमे 91 पैकेट खाद्य तेल और 1किलो दलिया 91 पैकेट और 500ग्राम दलिया के पैकेट 99 जो केंद्र से उठान हुआ। जहां लाभार्थियों द्वारा बताया गया कि अभी तक राशन का वितरण नहीं किया गया। जिसमें गांव अमैयापुर पूर्वी निवासी अलका ने बताया है कि इस महीने में उन्हें कोई राशन नहीं दिया गया है। और न ही यहां राशन बांटने के लिए आती हैं। किरण ने बताया है कि उन्हें इस महीने में अभी तक कोई राशन नहीं दिया गया है। अमैयापुर पूर्वी निवासी निशा ने बताया है कि उन्हें लगभग दो-तीन महीने से राशन नहीं दिया गया है। गांवअमैयापुर पूर्वी निवासी मुन्नी देवी ने बताया है कि दो-तीन महीने से उन्हें राशन नहीं दिया गया है।

Share this post:

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल

× How can I help you?