Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

Download App from

विद्यालय में पढ़ रहे बच्चों का भविष्य चौपट,विद्यालय में लटकता ताला

राजेपुर,फर्रुखाबाद, आरोही टुडे न्यूज 

अभिषेक तिवारी की रिपोर्ट 

जनपद फर्रुखाबाद के विकासखंड राजेपुर क्षेत्र के गांव सबलपुर में जूनियर प्राथमिक विद्यालय में ताला लटकता रहा।अध्यापकों द्वारा छात्रों के अरमानों का गला घोटा जा रहा है।बच्चों का भविष्य चौपट किया जा रहा है। प्रधानाचार्य सत्यवती से जब इस मामले में जानकारी लेने के लिए संपर्क किया गया तो उनका नंबर नहीं लगा। उच्च अधिकारों द्वारा कोई भी सख्त रवैया नहीं अपनाया जा रहा है।जब इसकी जानकारी ग्राम वासियों द्वारा मीडिया को दी गई तो मीडिया के रिपोर्टर मौके पर पहुंचे। मीडिया द्वारा लोगों से जानकारी ली गई तो लोगों ने बताया कि यह विद्यालय आज सुबह से नहीं खुला है। विद्यालय में पढ़ रहे बच्चों का भविष्य चौपट हो रहा है।विद्यालय में ताला लटकता रहा। उच्च अधिकारियों के निर्देश की धज्जियाँ उड़ाई जा रही है। एक तरफ सरकार बच्चों की पढ़ाई के लिए लगातार अथक प्रयास कर रही है।बच्चों की नए-नए तरीकों से पढ़ाई करवाई जा रही है।वहीं दूसरी तरफ सबलपुर के प्राथमिक विद्यालय जूनियर में ताला लटकता रहा।एक गरीब व्यक्ति अपने बच्चों को बड़े अरमान के साथ पढ़ने के लिए विद्यालय भेजता है लेकिन विद्यालय में ताला लटकता देख अपने अरमानों का गला घोंटकर वापस अपने घर की ओर चला जाता है।उच्च अधिकारी कार्रवाई के नाम पर केवल मनगढ़ंत आख्या देकर मामले को शांत कर देते हैं।उच्च अधिकारियों द्वारा केवल एक दिन का वेतन काटकर गरीबों को संतुष्टि दे दी जाती है। उच्च अधिकारियों द्वारा कोई भी सख्त कदम नहीं उठाया जाता है।जिसे देखकर अन्य अध्यापक भी सुधार कर सकें।राजेपुर थाना क्षेत्र में लगातार भ्रष्टाचार का बोलबाला रहता है।उच्च अधिकारियों की लापरवाही का फायदा जमकर उठाया जा रहा है। उच्च अधिकारी केवल अपने दफ्तर तक ही सीमित रहते हैं।उनके द्वारा कोई भी निरीक्षण नहीं किया जा रहा है।जिसके कारण अध्यापकों के हौसले बुलंद है। कई ग्रामीणों ने बताया है कि उच्च अधिकारी कार्रवाई के नाम पर केवल एक दिन का वेतन काटेंगे या 10 -5 हजार रुपए लेकर मामले को शांत कर देंगे। गरीबों के अरमानों का लगातार गला घोटा जाएगा। एक तरफ जहां सरकार गरीबों को हर सुविधा देने की बात करती है वहीं दूसरी तरफ उसी के कर्मचारी उसी के आदेशों की धज्जियां उड़ा रहे हैं। उच्च अधिकारियों व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के बयान केवल हवा हवाई होते नजर आ खंड शिक्षा अधिकारी राजेपुर अनूप कुमार से बात की तो उन्होंने बताया है की जांच कर कार्रवाई की जाएगी

Share this post:

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल

× How can I help you?