Download App from

संपूर्ण समाधान दिवस में डीएम व एसपी ने स्थानीय विधायक के साथ सुनी जनता की समस्याएं

कायमगंज, फर्रुखाबाद,आरोही टुडे न्यूज़
कायमगंज तहसील सभागार में आयोजित संपूर्ण समाधान दिवस की अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी संजय कुमार सिंह ने आवेदन कर्ता 145 फरियादियों की समस्याओं को अन्य अधिकारियों के साथ सुनते हुए मौके पर ही 11 समस्याओं का निस्तारण करा दिया। शेष 134 प्रार्थना पत्रों को संबंधित विभाग के अधिकारियों तथा कर्मचारियों को स्थलीय निरीक्षण उपरांत पारदर्शिता पूर्ण ढंग से निस्तारित करने के आदेश दे सौंप दिए । समाधान दिवस में प्राय: यह देखने में आ रहा है कि हर बार आयोजित तहसील समाधान दिवस में आने वाली नई समस्याएं या फिर ऐसी समस्याएं जिनके निस्तारण के लिए अधिकारी आदेश दे चुके हैं। बार-बार राजस्व विभाग से जुड़ी हुई, फरियादी लेकर पहुंचते हैं। इसकी तह में देखा जाए तो अधिकांश लेखपालों की धनलोलुप्ता साफ झलकती दिखाई देती है। लेखपाल एक पक्ष से ले -देकर न तो सही पैमाइश करते हैं और ना सही निस्तारण के लिए प्रयास। शायद इसीलिए बार-बार पीड़ित अपनी फरियाद लेकर अधिकारियों के पास दस्तक देता नजर आता है।

आज के आयोजित समाधान दिवस में भी जो समस्या निस्तारण हेतु प्रार्थना पत्र प्राप्त हुए उनमें से केवल 76 राजस्व विभाग से संबंधित रहे। शेष 25 पुलिस विभाग एवं आठ अन्य विभागों से संबंधित बताई गई । कस्बा कायमगंज से सटे गांव घसिया चिलौली स्थित खेरेश्वरी हाथी वाला मंदिर के महंत गोविंद स्वरूप ने प्रार्थना पत्र देकर इसी गांव के निवासी दबंगों पर मंदिर की दूसरों द्वारा दान की गई जमीन पर जबरिया कब्जा करने तथा ग्राम शिवरई बरियार निवासी नंदराम ने प्रार्थना पत्र देकर कहा कि वह चीनी मिल कायमगंज में संविदा इलेक्ट्रीशियन के पद पर कार्यरत है। लेकिन बिना किसी उपयुक्त कारण के उसका मानदेय भुगतान मार्च 2022 एवं अप्रैल का नहीं दिया जा रहा है। नगर के मोहल्ला पाठक निवासी शशि प्रकाश शुक्ला ने न्यायालय एसडीएम द्वारा कुरा निर्धारण के बावजूद भी विपक्षी द्वारा उसके हिस्से की भूमि पर कब्जा न देने की, जबकि मुन्ना पुत्र इस्लाम ने अपना कटा हुआ पैर दिखाते हुए दिव्यांग प्रमाण पत्र उपलब्ध कराने की मांग की है। थाना क्षेत्र कंपिल के गांव इकलहरा निवासी अमरपाल पुत्र स्वर्गीय वेदराम ने प्रार्थना पत्र सौंपते हुए कहा है कि उसके पिता की मृत्यु के बाद गांव स्थित कृषि भूमि विरासत में उसके तथा उसके भाइयों के नाम आ गई ।लेकिन उसी भूमि पर वन विभाग द्वारा वृक्षारोपण करा दिया गया।

जिससे उसकी पैतृक संपत्ति की हकतलफी हुई है। उसने भूमि की सही ढंग से पैमाइश कराने की गुजारिश करते हुए अपनी भूमि वापस दिलाने की मांग की। शमशाबाद थाना क्षेत्र के गांव काशिमपुर तराई के पूर्व ग्राम प्रधान रामचरण ने गंगा नदी आराजी वाली भूमि पर अवैध कब्जे की शिकायत करते हुए पैमाइश कराने एवं इस भूमि को अवैध कब्जेदारों से तत्काल मुक्त कराने की मांग की, महिला संगीता देवी पत्नी लालता प्रसाद निवासी पिलखाना ने शिकायती पत्र देते हुए कहा की जिलाधिकारी, उप जिलाधिकारी जैसे सक्षम अधिकारियों के आदेश के बावजूद भी क्षेत्रीय कानूनगो बार-बार निवेदन करने के बावजूद भी उसकी भूमि पर बटा कायम नहीं कर रहा है। जैसे अन्य आवेदन पत्र प्राप्त हुए ।आयोजित समाधान दिवस में जिलाधिकारी के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार मीणा, उप जिलाधिकारी संजय सिंह, पुलिस क्षेत्राधिकारी सोहराब आलम ,जिला पंचायत अध्यक्ष मोनिका यादव (जनप्रतिनिधि )के अतिरिक्त संबंधित विभागों के अधिकारी तथा कर्मचारी उपस्थित रहे।

संवाददाता अभिषेक गुप्ता की रिपोर्ट

Share this post:

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल

× How can I help you?